MP

निवाड़ी में कोरोना: घाट पर बैन रही छठ पूजा, CM के जनदर्शन में जुटेगी भीड़

निवाड़ी (जोशहोश डेस्क) कोरोना के खतरे के बीच भीड़ जुटने की आशंका पर सरकार का दोहरा रवैया सामने आ रहा है। निवाड़ी में भी ऐसा ही हुआ। एक ओर रविवार को छठ पूजा के मौके पर के चलते निवाड़ी जिले के ओरछा में बेतवा घाट पर श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित किया गया वहीं अब कल निवाडी में ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान खुद जनदर्शन यात्रा पर रहेंगे। बड़ी बात यह है कि यात्रा का आगाज और समापन वे जनसभा से ही करेंगे।

निवाड़ी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का दौरा पहले सोमवार को होना था लेकिन अब इसे एक दिन आगे बढ़ाया गया है। अब शिवराज मंगलवार को निवाड़ी के दौरे पर रहेंगे और यहां ओरछा के राम राजा दरबार में दर्शन करने के बाद मोहनगढ़ में आमसभा संबोधित कर जनदर्शन यात्रा का आगाज करेंगे। जिसका समापन पृथ्वीपुर में जनसभा के साथ ही होगा।

बड़ी बात यह है कि मुख्यमंत्री शिवराज के दौरे से दो दिन पहले यानी रविवार को छठ पूजा के मौके पर प्रशासन ने आदेश जारी कर ओरछा के बेतवा घाट पर श्रद्धालुओं का प्रवेश प्रतिबंधित किया हुआ था। जारी आदेश में इसका कारण कोरोना से बचाव और जनहित बताया गया था। जबकि रविवार को ही मुख्यमंत्री शिवराज ने जनदर्शन यात्रा की शुरुआत सतना जिले से की थी। यहां भी उन्होंने भीड़ के बीच लोगों से सीधे संवाद कर जनसभा को संबोधित किया था।

सवाल यह है कि जिस निवाड़ी जिले में दो दिन पहले तक छठ पूजा पर भीड़ की आशंका के चलते घाट पर प्रवेश प्रतिबंधित किया गया था। उसी निवाड़ी में दो दिन बाद मुख्यमंत्री की जनदर्शन यात्रा और जनसभाओं में उमड़ी भीड़ से कोरोना का खतरा नहीं रहेगा?

कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने भी इस पर सवाल उठाया है-

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इन दिनों जनदर्शन यात्रा पर हैं। उनकी जनदर्शन यात्रा उन इलाकों में हो रही है जहां जल्द ही उपचुनाव होना है। पृथ्वीपुर में पूर्व मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर के निधन के बाद उपचुनाव होना है। कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री बृजेन्द्र सिंह राठौर का कोरोना से निधन हो गया था। बृजेन्द्र सिंह राठौर दमोह उपचुनाव में बेहद सक्रिय रहे थे जहां भाजपा को करारी शिकस्त मिली थी।

Back to top button