National

फ़र्ज़ी निकला पांच्जन्य के पत्रकार को ‘सिर तन से जुदा’ का केस, दोस्त अरेस्ट

पुलिस ने पांचजन्य के पत्रकार निशांत आज़ाद को 'सिर तन से जुदा' की धमकी देने के केस में उन्हीं के दोस्त प्राणप्रिय वत्स को किया गिरफ्तार

गाजियाबाद (जोशहोश डेस्क) राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के मुखपत्र पांच्जन्य के पत्रकार को ‘सिर तन से जुदा’ की धमकी दिए जाने का मामला बोगस निकला। पत्रकार को यह धमकी उसके ही दोस्त ने दी थी। पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा कर दिया है।

गाजियाबाद पुलिस ने पांच्जन्य के पत्रकार निशांत आज़ाद को ‘सिर तन से जुदा’ की धमकी देने के केस में उन्हीं के दोस्त प्राणप्रिय वत्स को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक उधार के पैसे के विवाद को लेकर पत्रकार निशांत आज़ाद को धमकी दी गई थी।

इससे पहले पत्रकार निशांत आजाद द्वारा ने केस दर्ज़ कार्या था कि उन्हें व्हाट्सएप पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा जान से मारने और ‘सिर को तन से जुदा’ करने जैसी धमकी दी गई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए गाजियाबाद पुलिस ने केस दर्ज किया और तुरंत जांच शुरू कर दी थी।

निशांत आजाद ने कहा था कि धमकी में कहा गया कि वो जिस तरह किसी धर्म विशेष को गलत तरीके से प्रचारित कर रहे हैं उसे बंद कर दे वरना उन्हें और उन्हें परिवार को जान से मार दिया जाएगा। नेशनल मीडिया और सोशल मीडिया में इस केस को नुपूर शर्मा का समर्थन किये जाने से जोड़ते हुए काफी सनसनीखेज बना दिया गया था।

इससे पहले गाजियाबाद के ही एक डॉक्टर अरविंद वत्स ने भी पुलिस में इसी तरह की धमकी दिए जाने का केस दर्ज़ कराया था। डॉक्टर अरविंद वत्स ने केस दर्ज कराते हुए कहा था कि उन्हें जाने मारते और ‘सिर तन से जुदा’ करने की धमकियां मिल रही हैं।

पुलिस ने जांच में यह सामने आया था कि इस घटना को खुद डॉक्टर अरविंद वत्स ने अंजाम दिया था और अपने ही मरीज पर केस दर्ज करवा दिया था। डॉक्टर अरविंद वत्स और पांचजन्य के पत्रकार निशांत आज़ाद आपस में दोस्त बताये जा रहे हैं।

Back to top button